वो पायल की आवाज़

ये कहानी भेजी है Noida से राहुल ने.

REAL HORROR STORIES IN HINDI

STORY OF GHOST IN HINDI
HAUNTED STORIES IN HINDI

मेरी उम्र 30 साल है . ये बात उन दिनों की है जब मैं 9th क्लास में पढ़ा करता था . उम्र मेरी रही होगी कोई 15-16 साल उस टाइम .
Family में मम्मी पापा मैं और मेरी छोटी बहन थी जो मुझसे दो साल छोटी है .
पापा की Government Job है . तो उस टाइम हम सरकारी स्टाफ quarters में ही रहा करते थे . पापा का प्रमोशन हुआ तो पापा को बड़ा फ्लैट allot हो गया उसी कॉलोनी में . हम नए फ्लैट में चले गए . मैं बहुत खुश था . ये सोच के की अब अपना एक अलग रूम ले लूंगा .
न जाने क्यों जिस दिन से ही हम उस घर में गए थे मुझे उस घर एक अजीब सी मायूसी सी महसूस होती थी . घर में चहल पहल भी रहती थी पूरा दिन . लेकिन फिर भी न जाने क्यों एक अलग सी मनहूसियत और सन्नाटा था उस घर में . मेरी आदत थी रात में लेट सोने की . हमारा केबल वाला रात में नयी फिल्में लगता था तो मैं वो ही देखता रहता था अपने कमरे में . पापा मम्मी और बहन दूसरे कमरे में जल्दी ही सो जाते थे . शुरू के कुछ दिन तो सब कुछ ठीक था . फिर एक रात .

मैं अपने कमरे में बेड पर लेट के मूवी देख रहा था . की अचानक मुझे अपने कमरे के बाहर कोई आवाज़ सुनाई दी . मुझे लगा शायद मम्मी उठी होंगी टॉयलेट जाने के लिए . मैंने ध्यान नहीं दिया . हाँ टीवी की थोड़ी आवाज़ जरूर कम कर दी .
लेकिन फिर 4-5 मिनट बाद फिर से कोई आवाज़ आई . आवाज़ ऐसी थी जैसे किसी औरत के चलने पर पायल की आवाज़ आती है छन छन छन…. बिलकुल ऐसी आवाज़ .

मैंने टीवी की आवाज़ बिलकुल बंद कर दी . बाहर से आवाज़ आ रही थी छन… छन… छन… मेरे पुरे शरीर में जैसे करंट सा लग गया हो . रोंग रोंग खड़ा हो गया था . ऐसा नहीं था आवाज़ लगातार आ रही थी . 4-5 सेकंड के लिए आती फिर बंद हो जाती . फिर 3-4 मिनट के बाद फिरसे छन.. छन… छन…

जैसे कोई औरत भारी पायल पहन कर चल रही हो. मेरा दिल जोर जोर से धड़कने लगा . ऐसा लगा की अभी दिल छाती से निकल के मेरे मुँह आ जाएगा . समझ में नहीं आ रहा था क्या करू . फिर ख्याल आया की साथ वाले कमरे में मम्मी पापा सो रहे हैं उनको जगाता हूँ. हिम्मत करके दरवाजा खोला . दरवाजा खोल के जैसे ही बाहर निकला अचानक फिर से .. छन… छन… छन…
इस बार आवाज़ बिलकुल मेरे सामने से आ रही थी . मानो कोई नयी नवेली दुल्हन चल रही हो .
लेकिन सिर्फ आवाज़ आ रही थी .दिख कुछ नहीं रहा था . सिर्फ आवाज़ . बिलकुल clear आवाज़ . छन… छन… छन…
मम्मी पापा को उठाया जल्दी से . पापा इन सब चीजों को बिलकुल नहीं मानते . और वैसे भी उस टाइम सब नींद में थे . किसी ने ध्यान नहीं दिया मेरी बात पे . फिर मैं मम्मी पापा के रूम में ही सो गया . फिर 3-4 दिन निकल गए . कुछ नहीं हुआ . फिर एक रात अचानक फिर से वही आवाज़ . छन छन छन .
आवाज़ हर रोज़ नहीं आती थी . न ही कभी कुछ दिखता था. सिर्फ आवाज़ . धीरे धीरे मुझे भी आदत सी पड गयी . कोई फिक्स टाइम भी नहीं था आवाज़ सुनाई देने का . कभी 10 बजे , कभी 10.30. कभी 11. किसी भी टाइम आती थी .लेकिन एक बात पक्की थी की वो आवाज़ सिर्फ मुझको ही सुनाई देती थी और किसी को नहीं .
आवाज़ सुनके मैं बहुत डर जाता लेकिन उस घर में कभी कुछ बुरा नहीं हुआ हमारा . हमने कुछ नया सामान भी खरीदा. सब normal ही रहा .

फिर 8-9 महीने बाद पापा को दूसरा फ्लैट मिल गया और हम वहां शिफ्ट हो गए . उस फ्लैट में हमारी जगह जो नए लोग आये वो हमारे जानने वाले ही थे क्युकी एक हे स्टाफ के थे सब . उनका लड़का मेरा अच्छा दोस्त था . और उनकी फॅमिली काफी बड़ी थी . एक दिन वो अंकल हमारे घर आये और हमसे पूछा की क्या आपको कभी उस घर में कोई आवाज़ सुनाई दी क्या ?
बस . ये बात सुनके मुझको यकीन हो गया की वो मेरा वेहम नहीं था . उन अंकल की पूरी फॅमिली ने वो आवाज़ सुनी है . तब जाकर मम्मी पापा को यकीन आया की मैं झूठ नहीं बोलता था . फिर उन लोगो ने अपने घर में पूजा वूजा करवाई. किसी से पूछा की क्या दिक्कत है घर में तो पता चला की उस घर में एक नहीं दो नहीं 6 आत्माएं रहती थी.
आज इस बात को 13-14 साल हो चुके हैं . अब मैं भी काफी बड़ा चुका हूँ.
मुझे नहीं पता की अब भी वहां से वो आवाज़ आती है या नहीं. लेकिन सच बताऊ तो आज भी जब भी उन आवाज़ों के बारे में सोचता हूँ दिल में एक अजीब सा डर आ जाता है.
शुक्र है की अभी हम जिस घर में रह रहे हैं वहां ऐसा कुछ नहीं है.

अगर आप ये कहानी पढ़ने के साथ साथ सुनना भी चाहते हैं तो नीचे वीडियो को प्ले करें.
इसी तरह की और डरावनी, दिल दहला देने वाली और रोचक कहानिया सुनने के लिए मेरा Youtube Channel जरूर सब्सक्राइब करें नीचे लाल बटन दबा कर.

और सच्ची डरावनी कहानिया पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें.
Homepage पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें.

मेरा फेसबुक पेज भी जरूर like करें.

चुड़ैल दुल्हन

6 Comments

  1. rani sing March 15, 2018
    • kamal khatri August 30, 2018
  2. Rakesh Ahuja March 22, 2018
  3. simar July 4, 2018
  4. Rohit Nishad August 29, 2018
  5. DHRUBA SARMAH September 28, 2018

Add Comment